बिलासपुर । दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर के केन्द्रीय चिकित्सालय, बिलासपुर के द्वारा विगत 8 वर्षों से ह्रदय रोगियों के लिए नि:शुल्क पेस मेकर जाँच शिविर का आयोजन किया जा रहा है, यह शिविर 19 जुलाई को सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर के केन्द्रीय चिकित्सालय, बिलासपुर में चलाई जायेगी। यह शिविर वर्ष में 2 दो बार 6-6 माह के अंतराल में लगाया जाता है। प्रति इस जाँच शिविर में रेलवे एवं गैर-रेलवे के हृदयरोग के मरीजों के द्वारा लगाये गए पेसमेकर का नि:शुल्क जाँच किया जाता है एवं जरूरत पडऩे पर उसमें बैटरी लगाया जाता है तथा नये पेस मेकर भी लगाये जाते है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर के केन्द्रीय चिकित्सालय, बिलासपुर का यह नि:शुल्क पेस मेकर जाँच शिविर  हदय रोगियों के लिए हमेशा से ही शिविर एक वरदान रही है। डॉ. सी. के. दास, हृदय रोग विशेषज्ञ, केन्द्रीय चिकित्सालय, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर के अनुसार इस प्रकार का नि:शुल्क पेस मेकर जाँच शिविर का आयोजन भारत में पहली बार हो रहा है। केन्द्रीय चिकित्सालय, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर में सफलतापूर्वक ऐसे शिविरों के आयोजन में पेस मेकर कंपनियां भी जरूरतमंदों को नि:शुल्क पेसमेकर देती है यह सहयोग बहुत ही प्रशंसनीय है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे सेंट्रल हॉस्पिटल, बिलासपुर का संचालन (19वीं बार) नि:शुल्क पेसमेकर चेकिंग कैंप 19 जुलाई, 2019 को आयोजन किया जाएगा। क पेसमेकर के साथ नए रोगी फोन 07752242177 पर पंजीकरण कर सकते हैं।
जिन मरीजों को पेसमेकर लगाया जाता है, वे अपने संबंधित उपचार के साथ इसमें शामिल हो सकते हैं, साथ कागजात अवश्य लायें। पेसमेकर को हृदय रोगी के रोगियों में प्रत्यारोपित किया जाता है जहां हृदय गति होती है, विभिन्न कारणों से असामान्य रूप से धीमा हो जाती है । पेस मेकर एक बार प्रत्यारोपित करने के बाद इन पेसमेकरों की निगरानी की आवश्यकता होती है-इनमें बैटरी जीवन के लिए हर छह महीने या एक वर्ष का मूल्यांकन किया जाना जाता है। मुफ्त पेसमेकर पिछले आठ वर्षों से रेलवे के साथ-साथ गैर-रेलवे रोगियों के लिए शिविरों की जाँच कर रहा है। केंद्रीय अस्पताल के कार्डियोलॉजी विभाग, एस.ई.सी.रेलवे, बिलासपुर इस तरह का आयोजन कर रहा है जो और कने भी आयोजित नहीं होती है। पेसमेकर वाले सभी रोगियों से अनुरोध है कि वे इस तरह के शिविरों का लाभ आशय उठाएं।