महाराष्‍ट्र की मुंबई उत्‍तर लोकसभा सीट चर्चित सीटों में से एक है. इसकी वजह है कांग्रेस ने यहां से बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर को उम्‍मीदवार बनाया है. फिल्‍मी करियर में बेहतरीन अभिनय करने के बाद उर्मिला लोकसभा चुनाव 2019 से राजनीतिक पारी की शुरुआत कर रही हैं. उर्मिला मातोंडकर की टक्‍कर बीजेपी के गोपाल शेट्टी से है, जो यहां के मौजूदा सांसद भी हैं. इस सीट पर वोटिंग 29 अप्रैल को चौथे चरण में हुई थी. इस सीट पर NEWS18-IPSOS एग्जिट पोल के मुताबिक बीजेपी के गोपाल शेट्टी जीतते दिखाई दे रहे हैं. गोपाल शेट्टी ने इस सीट पर 2014 में भी जीत दर्ज की थी.

राम नाइक की हार

1989 से बीजेपी के राम नाइक के चुनाव मैदान में एक के बाद एक बुलंदी के झंडे गाड़े जा रहे थे. लगातार बीजेपी की जीत की काट के लिए कांग्रेस ने उपाय ढूंढा और 2004 में इस सीट पर फिल्‍म स्‍टार गोविंदा आहूजा को लेकर आए. गोविंदा ने राम नाइक के खिलाफ जमकर प्रचार किया और अपने लिए वोट मांगे. आखिरकार मुंबई उत्‍तर की जनता ने राम नईक के बजाय गोविंदा को चुना. गोविंदा को उस दौरान 5,59,763 वोट मिले. जबकि उनके खिलाफ बीजेपी के राम नईक को 5,11,492 ही वोट मिले. हालांकि बीजेपी का विजयरथ रोकने के बाद कांग्रेस ने 2009 में अपना उम्‍मीदवार बदल दिया.

चुनावी इतिहास


1952 में इस सीट पर कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के श्रीपद अमृत डांगे ने जीत हासिल की. उसके बाद यहां अलग-अलग पा‍र्टियों ने चुनाव जीता. हालांकि 1989 से लेकर 2004 तक फिर यहां बीजेपी का कब्‍जा रहा और राम नईक चुनाव जीतते रहे.

कौन हैं प्रत्‍याशी?

2019 लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने उर्मिला को टिकट देकर अपनी उम्‍मीदें बांधी हैं. वहीं बीजेपी ने मौजूदा सांसद गोपाल शेट्टी को एक बार फिर से उम्‍मीदवार बनाया है. बसपा की ओर से मनोज कुमार जयप्रकाश सिंह मैदान में हैं. मंसूरी फाउंडेशन की ओर से फतेह मोहम्‍मद मंसूरी शेख उम्‍मीदवार हैं. वहीं वंचित बहुजन आघाड़ी की ओर से सुनील थोराट चुनाव लड़ रहे हैं. इस सीट पर कुल 18 उम्‍मीदवार मैदान में हैं.2014 में कांग्रेस को मिली बड़ी हार

पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने कांग्रेस को बहुत बुरी तरह हराया. बीजेपी उम्‍मीदवार गोपाल शेट्टी को इस दौरान 6,64,004 वोट मिले. जबकि कांग्रेस उम्‍मीदवार और 2009 के सांसद संजय निरुपम को सिर्फ 2,17,422 वोटों से ही संतोष करना पड़ा. शेट्टी ने निरुपम को 4,46,582 वोटों के अंतर से हराया. तीसरे नंबर पर यहां आम आदमी पार्टी के सतीश जैन रहे. जिन्हें 32,364 वोट मिले.

2009 की बात करें तो कांग्रेस के संजय निरुपम यहां से चुनाव जीते. निरुपम को 2,55,157 वोट मिले थे. जबकि बीजेपी के राम नईक को 2,49,378 वोट मिले. ऐसे में जीत-हार का अंतर महज 5,779 वोट रहा. तीसरे नंबर पर महाराष्‍ट्र नव‍निर्माण सेना के शिरिष पारकर रहे. जिन्‍हें 1,47,502 वोट मिले.

सामाजिक ताना-बाना

मुंबई उत्तर लोकसभा सीट के अंतर्गत 6 विधानसभा सीटें आती हैं. इनमें बोरीवली, दहिसर, मगाथाने, कांदिवली पूर्व, चारकोप और मलाड पश्चिम विधानसभा सीटें आती हैं. यहां बोरीवली, दहिसर, कांदिवली पूर्व और चारकोप में बीजेपी के विधायक हैं. जबकि मगाथने विधानसभा सीट शिवसेना के पास है. मलाड पश्चिम विधानसभा कांग्रेस के खाते में है.